Mukesh Ambani Facts 
Facts & Mysterious Uncategorized

Mukesh Ambani : मुकेश अंबानी की करोड़ों की कमाई के पीछे क्या है राज जाने इस पोस्ट में पूरी जानकारी विस्तार से।

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की करोड़ों की कमाई के पीछे क्या है राज जाने इस पोस्ट में पूरी जानकारी विस्तार से।

दोस्तों अमीर होना आज की दुनिया में सबसे बड़ी चाहत हो गई है और जहां असली अमीरी की बात होती है तो एक नाम जिसके बिना अमीरी शब्द पूरा ही नहीं होता वह है मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) एक ऐसे गुजराती जो लगातार 10 सालों से भारत के सबसे अमीर आदमी है और इस डेफिनेशन में बदलाव करते हुए उन्होंने खुद को एशिया का सबसे अमीर इंसान बना लिया जिसके लिए अली बाबा के जैक मा को पीछे छोड़ दिया है।

एक बहुत ही साधारण से व्यक्तित्व वाले मुकेश अंबानी अपने रिलायंस (Reliance) के साथ लगातार अमीरी के मुकाम को और ऊंचाई पर ले जाते जा रहे हैं। इसलिए यह बात तो जहन में आती है कि आखिर मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ही क्यों ऐ आखिर मुकेश अंबानी कैसे कमाते हैं इतने पैसे।आज के इस आर्टिकल्स में हम आप सभी लोगों को यही बात बताएंगे अतः आप इस आर्टिकल्स को अंत तक जरूर पढ़ें।

Mukesh Ambani Facts 

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani)  के पिता धीरूभाई अंबानी बचपन में भारत में पेट्रोल पंप पर पेट्रोल भरने का काम किया करते थे फिर सन 1950 में जब उनकी उम्र केवल 18 साल की थी तब वो यमन चले गए। वहां एक बंदरगाह में अपनी छोटी-सी क्लर्क की नौकरी करने लगे और जब धीरूभाई अंबानी को पता चला कि वहां के जो रियल के सिक्के है। उनमें चांदी लगा हुआ है जिसकी कीमत उनके सिक्के से ज्यादा है ।तो उसके बाद धीरूभाई अंबानी उनको अधिक मात्रा खरीदने लगे और अपने पास इकट्ठा करने लगे धीरे-धीरे रियाल जो वहां का सिक्का था

वह गायब होने लगा। उन्होंने उन सिक्कों से चांदी को गला कर लाखों रुपए कमाए फिर बाद में वही यामन में सन 1957 में मुकेश अंबानी का जन्म हुआ। तब इनका परिवार इतना अमीर नहीं हुआ करता था।और उस समय अपने परिवार के साथ दो रूम के घर में रहा करते थे।इनके पिता अपने बिजनेस करना चाहते थे ।इसलिए ये यमन छोड़कर 1958 में भारत वापस लौट आए भारत आकर धीरूभाई अंबानी ने कपड़े और मसाले का बिजनेस शुरू किया शुरू किया। शुरुआत में धीरूभाई अंबानी ने कपड़े की प्रोडेक्शन से शुरू किया।

और उस धागे की सप्लाई करने लगे जिसके कपड़े बनाने वाली कंपनी को जरूरत होती थी ।इसके बाद में धीरूभाई ने खुद ही कपड़े बनाना शुरू कर दिए और सन 1966 में उन्होंने अपनी पहली फैक्ट्री शुरू की और कंपनी का नाम रखा विमल धीरुभाई की कंपनी सफल रही और विमल कंपनी एक बहुत बड़ा ब्रांड बन गया।

मुकेश अम्बानी की स्कूल लाइफ 

लेकिन फिर भी मुकेश अंबानी की स्कूल लाइफ एक मिडिल क्लास के ही फैमिली में ही बिती थी। उनके पिता का बिजनेस तो अच्छा खासा तो चल रहा था लेकिन तब वह इतने बड़े बिजनेसमैन नहीं बन पाए थे। अंबानी अपने भाई और आनंद जैन के साथ साथ मुंबई के पेंडर रोड स्थित हिल ग्रेंज हाई स्कूल में पढ़ाई की जो बाद में उनके करीबी सहयोगी बन गए। अपने स्कूली शिक्षा के बाद उन्होंने मुंबई के सनजेवियर्स कॉलेज में पढ़ाई की इसके बाद उन्होंने इंस्टीट्यूट आफ केमिकल टेक्नोलॉजी में केमिकल इंजीनियरिंग में be कि डिग्री हासिल की और फिर मुकेश अंबानी एजुकेशन पढ़ाई पूरा करने के बाद आगे की पढ़ाई करने के लिए अमेरिका चले गए।

स्टैंडर्ड फोर्ड युनिवरसिटी में एडमिशन तो ले लिया। लेकिन बीच में ही अपनी पढ़ाई को छोड़कर भारत आ गए। क्योंकि उस वक्त तब तक अपने पिता का बिजनेस चल पड़ा था इसी कारण उन्हें भारत लौटना पड़ा ताकि वो अपने पिता की मदद कर सकें। असल में हुआ कुछ यू था कि जब मुकेश अंबानी अमेरिका से एमबीए कर रहे थे ।

ये भी पढ़े >>> Heeraben Modi Facts : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के माताजी हीराबेन की जीवन के रोचक किस्से, जानकर हो जाएंगे हैरान

Mukesh Ambani Biography 

उसी दौरान धीरूभाई अंबानी को पॉलिस्टर फिलामेंट धागे को बनाने का सरकारी सरकारी लाइसेंस मिल गया लाइसेंस को मिलने के बाद धीरूभाई अंबानी ने पॉलिस्टर फिलामेंट धागे को बनाने के लिए पताल गंज रायगढ़ महाराष्ट्र में मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाया और फिर उन्होंने मुकेश अंबानी को अमेरिका से वापस बुला लिया मुकेश अंबानी एमबीए की डिग्री अधूरी छोड़कर महाराष्ट्र वापस आ गए और इस तरह मुकेश अंबानी ने 24 साल के उम्र में ही रिलायंस इंडस्ट्रीज में अपना करियर शुरू किया इंडस्ट्री में आने के बाद मुकेश अंबानी राशिद भाई के अंदर काम करने लगे

कुछ दिन काम करने के बाद धीरूभाई अंबानी ने अपनी मर्जी से मुकेश अंबानी को काम करने की पूरी आजादी दे दी कोई भी फैसला लेना मुकेश अंबानी अपने पिता से एक बार सलाह जरूर लेते थे। बानी के पूरी आजादी से काम करने का फायदा रिलायंस इंडस्ट्रीज को मिला 1985 में राशिद भाई की मौत के बाद पॉलिस्टर फिलामेंट धागे की प्लांट की पूरी जिम्मेदारी मुकेश अंबानी के कंधे पर आ गई। उन्होंने इस जिम्मेदारी को बखूबी संभाल लिया। 1986 में अंबानी परिवार को एक बड़ा झटका तब लगा जब धीरूभाई अंबानी को ब्रेन स्ट्रोक से गुजरना पड़ा और सारी जिम्मेदारी मुकेश और उनके भाई अनिल के कंधों पर आ गई ।लेकिन दोनों भाइयों ने इस जिम्मेदारी को काफी अच्छे से निभाया ।

Mukesh Ambani Company 

ब्रेन स्ट्रोक के बाद धीरूभाई अंबानी बच तो गए लेकिन उनके दाऐ हाथ ने काम करना बंद कर दिया और उसके बाद मुकेश अंबानी अपने पिता के दाऐ हाथ बन गए मुकेश अंबानी ने न केवल अपने पिताजी के बिजनेस को संभाला बल्कि रिलायंस इंडस्ट्री में बहुत सारे नए बिजनेस प्लान लेकर आए जिसकी वजह से रिलायंस इंडस्ट्री आगे की ओर बढ़ती गई 1991 में मुकेश अंबानी ने पेट्रोकेमिकल प्लान स्थापित किया। 1995 में कंपनी रिलायंस टेलीकॉम की शुरुआत की 1998 में मुकेश अंबानी ने लोगों की जरूरतों को समझते हुए एलपीजी के फील्ड में कदम रखा।

रिलायंस गैस के नाम से रसोई गैस बनाने की कंपनी बना दी। ऐसे ही काम करते करते सफलता मिलते मिलते रिलायंस इंडस्ट्रीज की संपत्ति भी लगातार बढ़ती ही चली गई लेकिन साल आता है 2002 जिसमें धीरूभाई अंबानी की एमब्रेन स्ट्रोक की वजह से मौत हो गई पिता की मौत के बाद दोनों भाइयों में संपत्ति को लेकर विवाद हो गया। दोनों के विवाद से कंपनी को बहुत ही बड़ा नुकसान झेलना पड़ा। ईसी कारण इन दोनों भाइयों के झगड़े को खत्म करने के लिए उनकी मां ने रिलायंस इंडस्ट्री का दो हिस्सों में बंटवारा कर दिया मुकेश अंबानी के हिस्से में रिलायंस इंडस्ट्रीज और रिलायंस पेट्रोकेमिकल आ गया बंटवारे के बाद मुकेश अंबानी ने नई शुरुआत की और अपने बिजनेस को आगे बढ़ाना शुरू कर दिया

Mukesh Ambani Business 

मुकेश अंबानी की कमाई का मेन सोर्स जामनगर पैट्रोलियम रिफायनरी बनी बाकी और अपने बिजनेस को आगे बढ़ाना शुरू कर दिया मुकेश अंबानी की कमाई का मेन सोर्स जामनगर पैट्रोलियम रिफायनरी बनी सन 2006 में रिलायंस इंडस्ट्री में रिलायंस रिटेल मार्केट में कदम रख दिया रिलायंस रिटेल ब्रांड नाम के अंदर पूरे देश में शॉपिंग सेंटर शुरू किया जिसमें रिलायंस फ्रेश स्टोर काफी मशहूर हुआ आज इसके करीब 1500 से ज्यादा स्टोर पूरे भारत में हैं। और इसका मेन सोर्स रिलायंस ट्रेंड्स ,रिलायंस डिजिटल, रिलायंस फुटप्रिंट है ।

2010 में रिलायंस इंडस्ट्री ने इन्फोकॉम ब्रॉडबैंड कंपनी की शुरुआत की जिसका असली रंग 2016 में देखने को मिला क्योंकि यह ही रिलायंस इंडस्ट्रीज के टेलीकॉम सेक्टर में बहुत बड़ा चेंजिंग इयर्स साबित हुआ ।

ये भी पढ़े >>> मुकेश अंबानी के बेटी (ईशा अंबानी) के खर्चे के बारे में सुनकर बड़े बड़े Actors भी भिखारी लगेंगे | Isha Ambani Luxury Lifestyle

Mukesh Ambani Telecom Business Start 

2016 में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपना टेलीकॉम सर्विस रिलायंस जिओ शुरू किया जो इन्फोकॉम ब्रॉडबैंड का बड़ा रूप था। इसके बाद उन्होंने भारत की टेलीकॉम इंडस्ट्री को तहस-नहस ही कर डाला।और रिलायंस ने उसी साल Lyf ब्रांड नाम से अपना स्मार्टफोन 4जी लॉन्च किया 2016 में Lyf सबसे ज्यादा बिकने वाला स्मार्टफोन भी साबित हुआ। जिओ टेलीकॉम सेक्टर में आते ही उसने बाजार को पूरी तरह से बदल दिया। और देखते ही देखते बाकी सभी टेलीकॉम कंपनियों के मुकाबले सबसे ज्यादा कस्टमर रिलायंस जिओ के बन गए।

3 साल में जियो टेलीकॉम की नंबर वन कंपनी बन गई और जिओ ने 35 करोड़ से ज्यादा कस्टमर बना लिए 2019 में जियो ने लगभग 11679 करोड रुपए का इनकम जनरेट किया इसके बाद रिलायंस इंडस्ट्री ने 2020 में जिओमार्ट को भारत के 200 शहरों में लॉन्च किया है । रिलायंस इंडस्ट्रीज मीडिया ,फिल्म और म्यूजिक इंडस्ट्री में भी एक्टिव है। मीडिया में रिलायंस इंडस्ट्री के पास नेटवर्क ऐटीन है।

Mukesh Ambani Facts 

इतना सब कुछ करने के पीछे अगर किसी इंसान का दिमाग था तो वह सिर्फ मुकेश अंबानी थे।और एक्सपेरिमेंट और नए तरीके के बिजनेस के कारण ही इतने पैसे कमा पाते हैं और अपने साथ ही साथ रिलायंस इंडस्ट्री ने 236000 लोगों को नौकरी भी दे दी है ।आज शायद ही ऐसा कोई फील्ड है जिसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज नहीं है । रिलायंस इंडस्ट्री के कुल शेयर की बात करें तो आज अंबानी परिवार के पास इसका सिर्फ 46.32% हिस्सेदारी है और बाकी 53.68% हिस्सेदारी दूसरी शेरहोल्डर्स के नाम है। लेकिन मेजर शेरहोल्डर होने के नाते इसके मालिक अंबानी ही है ।जिनकी नेटवर्क अब 8770 करोड़ डॉलर से भी ज्यादा हो चुकी है। आपको क्या लगता है आने वाले समय में कोई मुकेश अंबानी को पीछे कर पाएगा अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में बताना साथ ही इस को लाइक करें तथा ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

Join Telegram

By Ankit Kumar
Hi, my name is Ankit Kumar. I am a native of Bihar state and have obtained a degree in Patna from Magadh University. I have spent 3 years in this field. I have been working mainly on Sarkari Idea website for almost 2 years. Our aim is to keep the common man in mind and deliver the news he needs. The news of country and abroad, latest developments of states, entertainment, automobile, car, latest news, government scheme, business idea, education and bike remains updated every moment.
https://saharahelpline.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *